Best Spiritual Stories Books in Gujarati, hindi, marathi and english language read and download PDF for free

Testing
by DHARMIK SHOBHASHANA

१४   नॅचरल गार्डन   मध्ये दोनचार दिवस गेले असावेत. मध्ये वाटले की ब्रुनी येईल कधी, तर नाही आली ती. तिचे आॅफिस कुठेय ठाऊक नव्हते मला. नि असते तरी ...

महती शक्तीपिठांची भाग ६
by Vrishali Gotkhindikar

महती शक्तीपिठांची भाग ६ २६ ) कुरुक्षेत्र – सावित्री शक्तीपीठ हे शक्तीपीठ श्री देवीकुपा भद्रकाली मंदिर "सावित्री पीठ", "देवीपीठ", "कालिका पीठ" किंवा "आदी पीठ" म्हणून देखील ओळखले जाते. याच ...

महती शक्तीपिठांची भाग ५
by Vrishali Gotkhindikar

महती शक्तीपिठांची भाग ५ १९)त्रिपुरा - त्रिपुरा सुंदरी शक्तीपीठ त्रिपुराच्या उदयपूर जवळ राधाकिशोरपूर गावात आईचा डावा पाय खाली पडला. इथे आईचे रूप “त्रिपुरासुंदरी “असुन सोबत शिवशंकर  “त्रीपुरेश “रुपात विराजमान ...

श्री मद्भगवतगीता माहात्म्य सहित - 21 (हनुमान चालीसा, हनुमानजी आरती और भजन)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण भक्तजनों!आज भगवान श्रीकृष्ण और श्रीगीताजी के अशीम अनुकम्पा से हनुमान चालीसा और आरती के साथ भजन को लेकर आपके सम्मुख उपस्थित हूँ।आप सभी हनुमान चालीसा के अमृतमय ...

महती शक्तीपिठांची भाग ४
by Vrishali Gotkhindikar

   महती शक्तीपीठांची भाग ४   1३)ज्वालामुखी - सिद्धिदा (अंबिका) शक्तीपीठ ज्वालामुखी शक्तीपीठ हे कांगडा जिल्हा , हिमाचल प्रदेश येथे आहे .   कांगडा जिल्ह्यात कालीधर डोंगराच्या पायथ्याशी हे ...

श्री मद्भगवतगीता माहात्म्य सहित - 20 - (गर्भ गीता, स्त्रोतम् और नागलीला)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बंधुवर!भगवान श्रीकृष्ण और श्रीगीताजी के अशीम अनुकम्पा से  (गर्भगीता) श्रीकृष्ण अर्जुन सम्वाद लेकर उपस्थित हूँ तथा साथ ही स्त्रोतम् और नागलीला को भी लेकर उपस्थित हूँ ।आपसभी ...

महती शक्तीपिठांची भाग ३
by Vrishali Gotkhindikar

महती शक्तीपिठांची भाग ३   ८) मानसा-दक्षयानी शक्तीपीठ मातेचे हे शक्तीपीठ तिबेटमध्ये असलेल्या मानसरोवराजवळ स्थापित आहे. या ठिकाणीच एका पाषाणावर आई सतीचा उजवा  हात पडला.  शिवाची मानस कन्या म्हणून ...

महती शक्तीपिठांची भाग २
by Vrishali Gotkhindikar

महती शक्तीपिठांची भाग २ पुराणानुसार ५२ शक्ति पीठ आहेत असे मानले जाते  . मात्र तंत्रचूड़ामणि मध्ये एकंदर  ५१ शक्ती पिठांच्या संदर्भात सांगितले गेले आहे . एकूण बावन्न शक्तीपीठे खालीलप्रमाणे ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित 19 (आरती)
by Durgesh Tiwari

श्रीमद्भगवतगीता (आरती)~~~~~~~~~~~~~~ॐ~~~~~~~~~~~~~                    ?आरती गीता जी की?करो आरती गीता जी की।।जग की तारण हार त्रिवेणी, स्वर्गधाम की सुगम नसेनी।अपरम्पार शक्ति की ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-१८)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण भक्तजनों!ईश्वर के प्रिय आप सभी भक्त जनों के लिए श्रीगीताजी के सबसे फलदायी अध्यायय को लेकर उपस्थित हु । श्रीगीताजी के इस अध्यायय के नित्य पाठ करने ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-१७)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बंधुवर!भगवान श्रीकृष्ण और श्रीगीताजी के अशीम अनुकंपा से आज श्री गीताजी के सत्रहवें अध्यायय को लेकर आया हु। आप सभी बन्धुजन श्रीगीता जी अमृतय शब्दो को पढ़कर, ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-१६)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बंधुवर!भगवान श्री कृष्ण और श्रीगीताजी के अशीम अनुकम्पा से आज श्री गीताजी के १६वें अध्याय को लेकर उपस्थित हूँ। आप सभी प्रियजन श्रीगीताजी के अमृतमय शब्दो को ...

कण कण उनका शस्त्र है
by Ajay Kumar Awasthi

1. रामचरित मानस में कथा है कि भगवान श्री राम माँ सीता जी के साथ चित्रकूट में एक शिला पर बैठे थे और तभी जयंत नामक कौए ने माँ ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-१५)
by Durgesh Tiwari

   जय श्रीकृष्ण बंधुवर!  श्रीगीता जी के अशीम अनुकम्पा से आज श्री गीताजी के १५ वें अध्याय को लेकर उपस्थित हूँ श्रीगीताजी के अमृतमय शब्दो को पढ़कर आप सभी ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-१४)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बन्धुवर!भगवान की अशीम अनुकम्पा से आज श्रीमद्भगवतगीता जी के चौदहवें अध्याय को लेकर उपस्थित हूँ। आपसभी बन्धुजन स3 निवेदन है कि आप सभी बन्धुजन श्रीगीता जी के ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-१३)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बंधुवर!श्रीगीताजी और परमेश्वर की कृपा से गीता जी के तेरहवें अध्याय के साथ आपके सम्मुख उपस्थित हूँ। श्रीगीताजी के अमृतमय शब्दो को पढ़कर अपने जीवन को कृतार्थ ...

સત્યમ શિવમ સુંદરમ
by Jagruti Vakil

સત્યમ શિવમ સુંદરમ             ચોમાસામાં વરસાદની સરવાણી સાથે અનેક ધાર્મિક સમાજિક તહેવારોની સર્વની લઇ આવતો શ્રાવણ માસ માનવીને માનવ ધર્મ તરફ વાળે છે.ધર્મ અને વિજ્ઞાન બહુ જ પુરાણકાળથી જોડાયેલા ...

श्रीमद्भगतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-१२)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बंधुवर!भगवान श्री कृष्ण के अशीम कृपा से श्रीमद्भगवतगीता जी के बारहवें अध्याय को लेकर उपस्थित हूँ। आप सभी बंधुवर इस अध्याय के अमृतमय शब्दो को पढ़कर, सुनकर ...

SIN OF A VIRTUOUS MAN
by Ajay Amitabh Suman

It is said that the wheel of the chariot of Dharmaraja Yudhishthira never came in contact with the Earth. This is because Dharmaraja was always remain established in religion. ...

पुनौराधाम
by Archana Anupriya

सीता जी का अवतरण-स्थान--पुनौरा-धामपिछले दिनों एक पारिवारिक प्रसंग में अपने गांव जाना हुआ जो बिहार के सीतामढ़ी जिले में है और इसी क्रम में अत्यंत पवित्र स्थली “पुनौरा धाम”के ...

श्रीमद्भगतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-११)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बन्धुवर!भगवान श्रीकृष्ण के असीम अनुकम्पा से आज फिर मैं श्रीगीताजी के ११ वें अध्याय को लेकर उपस्थित हूँ। आप सभी बन्धुजन श्रीगीताजी के अमृतमय सब्दो को पढ़कर ...

RADHA KRISHNA - 2
by Deepti Khanna

Next morning, Radha's mom saw her lying on the floor and when she walked her up,she said to her mom "Maa ,he came and he ate the butter and ...

श्रीमद्भगतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-१०)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बन्धुजन!भगवान श्रीकृष्ण और श्रीगीताजी की कृपा से आज मैं फिर से श्रीगीताजी के दसवें अध्याय को लेकर उपस्थित हूँ। आप सभी प्रियजन श्रीगीताजी के अमृतमय शब्दो को ...

श्रीमद्भगतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-९)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बंधुवर!आप सभी के सम्मुख श्रीगीताजी के नौवा अध्याय और उसके महात्त्म्य के साथ उपस्थित हूँ। श्री गीताजी की कृपामय शब्दो को पढ़कर, श्रवण कर के, अपने आप ...

RADHA KRISHNA - 1
by Deepti Khanna

One by one she stringed the flowers into a chain of happiness  . The colour of flowers reflected on her face , as she tied a knot after completing ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित (आठवा अध्याय)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बन्धुजन!श्रीगीताजी और प्रभु श्रीकृष्ण के कृपा से आज मैं श्रीगीताजी का आठवां अध्याय और उसके माहात्म्य के साथ उपस्थित हूँ। आप सभी श्रेष्ठजन श्रीगीता जी के आठवें ...

मज़बूरी
by Ajay Amitabh Suman

पैसे की तलाश में आदमी को क्या क्या न करना पड़ता है। मोहन एक छोटा सा व्यापारी था। घर में पत्नी के अलावा दो बच्चे थे। गाँव में उसकी कपड़ों की ...

भूत की पूजा (भाग - दो)
by Krishna Chaturvedi

दो"बेटा दो दिन बाद तुम्हारा काउंसिलिंग है,तुमने बोला था देल्ही जाना है, कब निकलोगे।" कन्हैया की माँ बोली जब वो घर लौट कर आया। "हाँ माँ, टिकट बना लिया है, ...

श्रीमद्भगतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-७)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बन्धुजन!भगवान श्रीकृष्ण के अशीम अनुकम्पा से आज श्री गीताजी के सातवें अध्याय को लेकर उपस्थित हूँ। आप सभी बन्धुजन इस अध्याय के अमृतमय शब्दो को पढ़कर अपने ...

श्रीमद्भगवतगीता महात्त्म्य सहित (अध्याय-६)
by Durgesh Tiwari

जय श्रीकृष्ण बंधुजन!आज फिर श्रीगीताजी के कृपा से श्रीगीताजी के छठे अध्याय और उसके महात्म्य के साथ आपके प्यार के अभिलाषा के लिए उपस्थित हु। भगवान श्रीकृष्ण जी आप ...

कहाँ है मन?
by Ajay Amitabh Suman

चीन का सम्राट अनगिनत जीत हासिल करके भी बहुत परेशान था। मन मे उठते हुए विचार उसके चितवन मे अनगिनत तरंगे पैदा कर रहे थे। उसकी आत्मा भीतर से ...

ભાલાના ભાલા જેવા આત્મનિર્ભર વિચારો
by Bipinbhai Bhojani

ભાલાના આત્મનિર્ભર વિચારો.....  આપણી  ભરમ- ભરમ કોલેજમાં અવાર-નવાર જુદી-જુદી વૈવિધ્યસભર સ્પર્ધાઓ દર વરસે યોજાય છે તેમાં ખાસ તો નવા-નવા કોન્સેપ્ટને લગતી વકતૃત્વ સ્પર્ધા મુખ્ય છે , આ વખતનો આપણો વકતૃત્વ ...